Vastu Tips | वास्तु दोषों से पाना हो छुटकारा तो घर में भूलकर भी यहां ना लगाएं दर्पण

Vastu Tips | वास्तु दोषों से पाना हो छुटकारा तो घर में भूलकर भी यहां ना लगाएं दर्पण

दर्पण यानी आईना अगर सही दिशा में न हो तो यह रिश्‍तों के बिखरने का मूल कारण बन सकता है ऐसा वास्तु विज्ञान का मानना है। वास्तु विज्ञान के अनुसार आईना घर में ऊर्जा को काफी प्रभावित करता है जिससे मानसिक और शारीरिक परेशानियां भी हो सकती हैं। पति-पत्नी के बीच दूरियां और तालमेल की कमी के पीछे घर में मौजूद आईना भी हो सकता है जो गलत दिशा और स्थान में लगा हो।

  • दर्पण का सामान्यतः अर्थ है- चेहरा देखने वाला शीशा, लेकिन वास्तु शास्त्र में और फेंगशुई में भी इसका बहुत महत्व है। सही दिशा में सही ढंग से लगाया गया दर्पण वास्तु के अच्छे परिणाम देने में सहायता करता है और वास्तु दोषों से भी छुटकारा दिलाता है।
  • दर्पण का जितना महत्व आंतरिक साज-सज्जा के लिये है, उतना ही वास्तु की दृष्टि से भी है। चीनी वास्तु में भी दर्पण का प्रयोग सृजनात्मक ऊर्जा के अच्छे प्रभावों को बढ़ाने के लिये, उसके प्रवाह को नियंत्रित करने के लिये और नकारात्मक ऊर्जा को पलटकर उसके प्रभाव को खत्म करने के लिये किया जाता है। दर्पण लगाने के लिये वह स्थान सबसे अच्छा माना जाता है, जहां उत्तर और पूर्व दिशाएं मिलती हों।
  • आइने को खरीदते करते समय इस बात का ध्यान रखें कि इसमें चेहरा साफ, स्पष्ट और वास्तविक दिखाई दे। धुंधला और व‌िकृत चेहरा दिखाने वाले आइना बुरा प्रभाव डालता है। इससे रोगों में भी वृद्धि होती है।
  •  घर के उत्तर और पूर्वी दीवार में दर्पण लगाने से उन्नति और धन लाभ की प्राप्ति होती है। वास्तु के अनुसार इस दिशा में दर्पण लगाने से व्यापार में घाटे और आर्थिक नुक्सान से मुक्ति मिलती है और धन वृद्धि में सहायक होता हैं।
  •  वास्तु विज्ञान के अनुसार आइने का हल्का और बड़ा होना बहुत लाभदायक होता है।
    शयन कक्ष में दरवाजे के सामने दर्पण लगाना शुभ होता है। लेकिन भूल कर भी मुख्य द्वार के सामने दर्पण न  लगाएं, इससे हानि होती है। वास्तु विज्ञान के अनुसार मुख्यद्वार के सामने दर्पण लगाने से सकारात्मक ऊर्जा टकराकर वापिस लौट जाती है।
  • वास्‍तु विज्ञान के अनुसार सोते समय बेड से आईना दिखाई दे तो यह शुभ स्थिति नहीं है। कहा जाता है कि यह दांपत्‍य जीवन के लिए अशुभ होता है। इससे स्वास्थ्य प्रभावित होता है और रिश्ते में भी दूरियां आने लगती हैं। अगर बेड रूम में आईन रखना हो तो ऐसे रखें कि सोते समय उसमें प्रतिबिंब नजर ना आए। इससे दोष नहीं लगता है।
  •   डाइन‌िंग टेबल के सामने आईना लगाना शुभ होता है परंतु दर्पण इस प्रकार लगाएं कि उसमें डाइन‌िंग टेबल पूरी तरह दिखाई दें। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आखिर कैसे बनता है सफेद मोती जैसा साबूदाना, जानें इसकी प्रक्रिया?

Sat Oct 24 , 2020
आखिर कैसे बनता है सफेद मोती जैसा साबूदाना, जानें इसकी प्रक्रिया? व्रत में खाए जाने वाली चीजों में साबूदाना सबसे ज्यादा खाया जाता है, नवरात्रि के मौके पर उपवास रखने वाले कई लोग साबूदाना खाते हैं। व्रत के बिना भी कुछ लोग इसे अपनी दिनचर्या में शामिल करते हैं लेकिन […]
After all, how to make a sago like white pearl, know its process?