You are here
Home > आलेख

श्रम सुधार – मध्यप्रदेश में उद्योग व श्रमिक हितों में संतुलन

श्रम सुधार – मध्यप्रदेश में उद्योग व श्रमिक हितों में संतुलन ओमप्रकाश श्रीवास्तव श्रमिकों, रोजगार प्रदाताओं जैसे उद्योगपति, कारखाना या दुकान का मालिक, श्रम संगठनों और सरकार के बीच संबंधों का निर्धारण श्रम कानूनों के माध्यम से होता है। यह कानून बताते हैं कि श्रमिकों का न्यूनतम वेतन कितना होगा, उनके

यातायात नियम आपकी सुरक्षा के लिये उन्हें बोझ न समझें

दुर्गेश रायकवार, भोपाल नियम, कायदे, कानून आपकी सुरक्षा के लिये बनाये गये हैं। इनका पालन करना सुनिश्चित करना होगा। कब तक पुलिस या बुद्धिजीवी आपको समझाइश देते रहेंगे। आपको खुद को अपनी और अपने परिवार की चिन्ता करनी होगी। इसके लिये आपको सड़क सुरक्षा संबंधी यातायात के नियमों का पालन

Top