आप’ से नहीं होगा कांग्रेस का गठबंधन, दिल्ली में अकेले चुनाव लड़ने की तैयारी

You will not be Congress' coalition, preparing to fight alone in Delhi

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन की संभावनाओं पर पेच फंसने के साथ ही कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया भी तेज कर दी है। इसी का नतीजा है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआइसीसी) द्वारा गठित दिल्ली की स्क्रीनिंग कमेटी की पहली बैठक शनिवार देर रात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित के घर पर हुई।

कांग्रेस महासचिव और स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष केसी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में एक घंटे तक चली इस बैठक में उम्मीदवारों के चयन से जुड़े तमाम पहलुओं पर चर्चा की गई। पार्टी सूत्रों के मुताबिक पार्टी आलाकमान राहुल गांधी की ओर से दिन में ही प्रदेश प्रभारी पीसी चाको को उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश प्राप्त हुआ था। लेकिन, जब वेणुगोपाल ने बताया कि वह रविवार को कर्नाटक जा रहे हैं तो यह बैठक शनिवार देर रात शीला के घर पर ही बुला ली गई।

चार सदस्यीय इस बैठक में वेणुगोपाल के अलावा पीसी चाको और शीला दीक्षित मौजूद रहे। एआइसीसी सचिव और प्रदेश के सह प्रभारी कुलजीत सिंह नागरा पंजाब में होने की वजह से अनुपस्थित रहे। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में दिल्ली की सातों सीटों पर उम्मीदवारी के लिए आए 74 आवेदनों के साथ-साथ ही उन नामों पर भी विचार किया गया जो कई सीटों पर प्रबल उम्मीदवार हो सकते हैं। उम्मीदवार चयन के लिए बैठक में तीन सूत्रीय फामरूला तय किया गया, जाति समीकरण, युवा और नया चेहरा और जीतने की संभावनाएं।

 

महिला उम्मीदवारों को मिलेगी प्राथमिकता

महिला उम्मीदवारों को भी कुछ हद तक प्राथमिकता मिलेगी। पुराने चेहरों पर भी विचार होगा, लेकिन सबसे अधिक प्राथमिकता उसी चेहरे या नाम को दी जाएगी जिसकी जीत पर पार्टी सर्वाधिक आश्वस्त होगी। बैठक में यह भी तय किया गया कि जल्द ही हर सीट से दो दो अथवा तीन तीन संभावित नामों के पैनल बनाकर एआइसीसी की केंद्रीय चुनाव समिति को भेज दिए जाएं ताकि वहां से एक एक नाम का चयन कर आलाकमान की स्वीकृति के लिए भेजा जा सके। सूत्रों के मुताबिक तीन तीन नामों के पैनल पर जल्द ही स्क्रीनिंग कमेटी की एक और बैठक भी रखी जा सकती है।