प्रदेश में 50 लाख किसानों की फसल ऋण माफी योजना का क्रियान्वयन शुरू

MP : Implementation on Crop Loan waiver scheme for 50 lakh farmers begins in state

अब सालों में नहीं, प्रतिदिन और हर सप्ताह होगा विकास : कमलनाथ
किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करना सरकार का लक्ष्य
मुख्यमंत्री ने रतलाम में 40 हजार किसानों के 134 करोड़ के ऋण माफ कर किया योजना का शुभारंभ
भोपाल। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने शुक्रवार को रतलाम जिले के नामली में जय किसान फसल ऋण माफी योजना की शुरूआत करते हुए 40 हजार से ज्यादा किसानों को 134 करोड़ रुपये फसल ऋण माफी के दस्तावेज सौंपे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम इस योजना में प्रदेश के 50 लाख किसानों का कर्ज माफ करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाना हमारा लक्ष्य है और इसके लिये सरकार हरसंभव प्रयास करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नई सरकार विकास को सालों पर नहीं छोड़ेगी, वह दिन-प्रतिदिन और हफ्तों में विकास करने की पक्षधर है। इसी नीति पर हम आगे बढ़ रहे हैं।

मुख्यमंत्री नाथ ने कहा कि हमारा वचन था कि किसानों का कर्जा माफ करेंगे। हम ने तय समय-सीमा में यह वचन निभाया है। कम समय में इतनी बड़ी संख्या में किसानों की कर्ज माफी का यह अभूतपूर्व काम नई सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि आज हमारे सामने कृषि क्षेत्र का सुनियोजित विकास करना सबसे बड़ी चुनौती है। नाथ ने कहा कि सरकार का यह मानना है कि जब तक हम किसानों को खुशहाल नहीं बनायेंगे, तब तक प्रदेश का सर्वांगीण विकास नहीं हो पायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को मजबूत बनाने के साथ ही अपने प्रदेश में बड़ी संख्या में बेरोजगार नौजवानों को काम देना भी हमारा लक्ष्य है। हम प्रदेश में बड़ी संख्या में औद्योगिक निवेश को लाकर बेरोजगारी को भी खत्म करेंगे। उन्होंने कहा कि नई सरकार घोषणाओं की सरकार नहीं है। यह काम करने वाली सरकार है। हमने यह तय किया है कि कोई भी काम कई सालों पर नहीं टलेगा। हम प्रति दिन और हफ्तों में विकास की बुनियाद रखेंगे, जिससे लोगों को बदलाव महसूस हो और प्रदेश का तेजी से विकास संभव हो।

कर्ज माफी के पहले हितग्राही बने कृषक भैरूलाल राठौर
कमल नाथ ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना की शुरूआत करते हुए ग्राम नामली के किसान बाबूलाल भैरूलाल राठौर को एक लाख 95 हजार 447 रुपये के फसल ऋण की माफी का प्रमाण-पत्र सौंपा। राठौर प्रदेश में योजना के पहले लाभान्वित हितग्राही बने हैं। समारोह में 40 हजार से ज्यादा किसानों के 134 करोड़ रुपये से अधिक के फसल ऋण माफ किये गये। मुख्यमंत्री ने टोकन के रूप में कुछ किसानों को फसल ऋण माफी के प्रमाण-पत्र वितरित किये।

197 करोड़ के निर्माण कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास
मुख्यमंत्री कमल नाथ ने रतलाम प्रवास के दौरान विभिन्न विभागों के लगभग 197 करोड़ लागत के 30 निर्माण कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि विकास से कोई समझौता नहीं किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने अपना वचन निभाया : कृषि मंत्री सचिन यादव

किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री सचिन यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री कमल नाथ ने प्रदेश के अन्नदाता किसानों से 2 लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने का जो वचन दिया था, उसे आज वे निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के खातों में राशि जमा होना प्रारंभ हो गयी है। किसानों को स्व-प्रमाणीकरण का अधिकार इस योजना में दिया गया है। उन्होंने बताया कि नई सरकार ने मात्र 57 दिन में कर्ज माफी सहित बिजली बिल आधा किया, कन्या विवाह के लिये राशि में वृद्धि करते हुए इसे 51 हजार रुपये किया है और 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली देने का जो वचन दिया था, उसे पूरा किया। यादव ने कहा कि सरकार प्रचार कम, काम ज्यादा करने पर विश्वास करती है। कार्यक्रम को सांसद कांतिलाल भूरिया ने भी संबोधित किया।