प्रदेश की 47 तहसीलों में 25 फरवरी होंगे ऋण माफी कार्यक्रम

Loan waiver program will be done on February 25 in 47 tehsils of the state.

3,10,441 किसानों के 1251.80 करोड़ के ऋण माफ होंगे

भोपाल। प्रदेश की 47 तहसीलों में 25 फरवरी को जय किसान फसल ऋण माफी योजना के ऋण माफी कार्यक्रम किये जायेंगे। कार्यक्रमों में कुल 3 लाख 10 हजार 441 किसानों के 1251 करोड़ 80 लाख रुपये के ऋण माफ किये जायेंगे। प्रदेश की शेष सभी तहसीलों में आगामी 3 मार्च तक ऋण माफी कार्यक्रम होंगे, जिनमें योजना के समस्त पंजीकृत किसानों के फसल ऋण माफ किये जायेंगे।

इन तहसीलों में होगा कार्यक्रम

सोमवार 25 फरवरी को बड़ौदा, गोहपारू, धार, बदनावर, झाबुआ, इंदौर, सांवेर, बैहर, बिरसा, अम्बाह, मेहगांव, शिवपुरी, सरई, सिंगौली, डिण्डौरी, विदिशा, हरदा, हंडिया, खिरकिया, सिराली, मनगंवा, रायपुर कर्चुलियान, रायसेन, गैरतगंज, रावटी, सीहोर, नसरुल्लागंज, देवरी, केसली, बांधवगढ़, घट्टिया, नीमच, जावद, सिंगौली, गोटेगांव, तेंदूखेड़ा, टीकमगढ़, बड़ागाँव धसान, शाढोरा, चंदेरी, मुंगावली, अलीराजपुर, बमोरी, छतरपुर, जुन्नारदेव, बिछुआ और सौंसर तहसीलों में फसल ऋण माफी के कार्यक्रम किये जायेंगे।

24 बैंकों द्वारा 12 लाख 25 हजार 808 ऋण माफी प्रकरण अनुमोदित

शनिवार तक 24 बैंकों ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना के 12 लाख 25 हजार 808 ऋण माफी के प्रकरण अनुमोदित कर दिये हैं। इनमें जिला सहकारी बैंकों ने 10 लाख 93 हजार 922, मध्यांचल ग्रामीण बैंक ने 42 हजार 694, स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया ने 26 हजार 324, सेंट्रल बैंक ऑफ इण्डिया ने 17 हजार 147, नर्मदा-झाबुआ ग्रामीण बैंक ने 11 हजार 68, बैंक ऑफ इण्डिया ने 9 हजार 616, सेंट्रल मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक ने 6 हजार 361, इलाहाबाद बैंक ने 3 हजार 940, यूनियन बैंक ऑफ इण्डिया ने 3 हजार 735, बैंक ऑफ बड़ौदा ने 3 हजार 308, पंजाब नेशनल बैंक ने 3 हजार 121, बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने एक हजार 491, यूको बैंक ने एक हजार 119, कनारा बैंक ने 486, आईडीबीआई बैंक ने 298, पंजाब एण्ड सिंध बैंक ने 242, सिंडिकेट बैंक ने 241, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने 190, देना बैंक ने 127, कॉर्पोरेशन बैंक ने 121, विजया बैंक ने 94, इण्डियन बैंक ने 68, इण्डियन ओवरसीज बैंक ने 66 और आंध्रा बैंक ने 31 ऋण माफी प्रकरण अनुमोदित किये हैं।

फसल ऋण माफी के 12 लाख 26 हजार 216 प्रकरण अनुमोदित

प्रदेश में शनिवार दोपहर तक योजना अंतर्गत 12 लाख 26 हजार 216 फसल ऋण माफी प्रकरण अनुमोदित किये गये हैं। प्राप्त जिलेवार जानकारी के अनुसार विदिशा जिले में 67 हजार 628, देवास 62 हजार 857, रतलाम 53 हजार 767, खरगोन 53 हजार 56, उज्जैन 50 हजार 559, धार 49 हजार 110, सिवनी 45 हजार 209, झाबुआ 42 हजार 815, शाजापुर 40 हजार 694, सीहोर 40 हजार 303, राजगढ़ 39 हजार 354, बड़वानी 38 हजार 857, मंदसौर 37 हजार 804, नीमच 37 हजार 753, छिन्दवाड़ा 35 हजार 436, सागर 35 हजार 381, होशंगाबाद 31 हजार 473, छतरपुर 30 हजार 480, बैतूल 29 हजार 946, टीकमगढ़ 27 हजार 653, इंदौर 21 हजार 128, अलीराजपुर 19 हजार 383, दमोह 18 हजार 798, खण्डवा में 18 हजार 162, श्योपुर 17 हजार 246, जबलपुर 16 हजार 706, आगर-मालवा 15 हजार 883, नरसिंहपुर 15 हजार 827, हरदा 14 हजार 571, पन्ना 14 हजार 212, भोपाल 13 हजार 573, सतना 13 हजार 87, कटनी 12 हजार 558, ग्वालियर 12 हजार 28, शहडोल 11 हजार 831, बालाघाट 11 हजार 760, शिवपुरी 11 हजार 717, भिण्ड 11 हजार 456, मुरैना 11 हजार 168, मण्डला 10 हजार 454, डिण्डोरी 10 हजार 338, दतिया 9 हजार 373, बुरहानपुर 9 हजार 239, सीधी 9 हजार 66, उमरिया 8 हजार 959, गुना 8 हजार 394, रीवा 7 हजार 288, अनूपपुर 7 हजार 88, रायसेन 5 हजार 799, अशोकनगर 4 हजार 978 और सिंगरौली जिले में 4 हजार 11 ऋण माफी प्रकरण अनुमोदित किये गये हैं।