कमर दर्द, गठिया और जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाएं मैथी के लड्डू

कमर दर्द, गठिया और जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाएं मैथी के लड्डू

स्वाद के साथ-साथ सेहत भी बनाएं मैथी के लड्डू

मेथी के लड्डू सेहत के लिए बहुत ही पौष्टिक होते हैं। साथ ही खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होते हैं। तो इन सर्दियों में इन्हें जरूर ट्राय करें। मैथी के लड्डू एक पारम्परिक रेसीपी है जो मिठाई कम बल्कि औषधीय रूप में अधिक प्रयोग किये जाते हैं। इसका प्रयोग प्रसव के बाद जच्चा को खिलाने के लिये या सर्दियों में होने वाले कमर या जोडों के दर्द की दवा के रूप में किया जाता है। इसमें मौजूद प्राकृतिक तत्व हमारे शरीर के लिए एक अच्छी औषिधि के रूप में काम करके हमें कई तरह की बीमारियों से निजात दिलाते है।

सर्दियों में लें आंवले के मुरब्बे का मजा, रहे सेहतमंद

सामग्री :
500 ग्राम मोटा पिसा गेहूं का आटा, 500 ग्राम मैथी दाना, 100 ग्राम खाने वाला गोंद बारीक किया हुआ, एक किलो गुड़, 250 ग्राम शकर का बूरा (पिसी शकर), 100 ग्राम पिसी छनी बारीक सोंठ, 1 किलो के करीब शुद्ध घी, 100 ग्राम खसखस, 250 ग्राम बारीक कटा मेवा, 10 ग्राम इलायची पावडर।

कमर दर्द, गठिया और जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाएं मैथी के लड्डू

विधि :
सबसे पहले मैथी दाने को साफ करके दो दिन पानी बदलकर भिगोएं। ताजे पानी से धोकर बारीक पीस लें। मोटे तले की फ्राइंगपेन में एक बड़ा चम्मच घी डालकर धीमी आंच में भूनें। घी की जरूरत लगने पर थोड़ा-थोड़ा डालकर चलाते हुए भूनते रहें। ब्राउन होने और खुशबू आने पर उतार लें। आटे को छानकर घी के साथ अलग से इसी तरह भून लें।

गोंद को घी में फुलाकर हल्का-सा कुचल लें। कम गरम घी में सोंठ और खसखस को डालकर निकाल लें। गुड़ को बारीक करके घी के साथ चलाएं। जब गुड़ घी में अच्छी तरह से मिल जाए तो उतार लें। इसमें तैयार की हुई सारी सामग्री, कटे मेवे, इलायची पावडर मिला दें। आधा बूरा भी मिला दें।
घी कम लगे तो इसमें आवश्यकता नुसार गरम घी मिला लें। अब थोड़ा गरम रहते ही मिश्रण को हथेलियों से रगड़ें और एक साइज के लड्डू बना लें।
सर्दी के दिनों में सुबह नाश्ते में यह लड्डू खाने से कमर दर्द, गठिया तथा जोड़ों का दर्द और वात रोग में लाभ मिलता है तथा स्फूर्ति बनी रहती है। ठंड के दिनों में इन लड्‍डुओं का सेवन करने से आप कई तरह की बीमारियों से बचे रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *