शहद खाओ सेहत बनाओ, जानें शहद के फायदे

शहद खाओ सेहत बनाओ, जानें शहद के फायदे

शहद या Honey बहुत ही फायदेमंद है। शहद बेहद स्वादिस्ट और पौष्टिक होता है। 1-2 बूंद शहद भी बहुत प्रभावकारी होता है। शहद कई बीमारियों को दूर करने के लिए घरेलू नुस्खों के रूप में प्रयोग किया जाता है। यानी शहद से कुछ बीमारियों का घरेलू इलाज संभव है। Healthy टिप्स में शहद के सेवन को खासतौर पर शामिल किया जाता है। आइए जानें शहद खाने से सेहत कैसे बनाई जा सकती है।

हीमोग्लोबिन बढ़ाना हो तो भी शहद का सेवन लाभकारी
शहद का use औषधी बनाने के साथ-साथ सौंदर्य प्रसाधन की तरह भी किया जाता है। बच्चो की खांसी दूर करने के लिए अदरक (Ginger) के रस में शहद मिलाकर देने से खांसी में आराम मिलता है। सूखी खांसी में भी शहद और नींबू का रस लेने से फायदा होता है। शहद में विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, अमीनो एसिड और खनिज पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। जो कि सेहत कि लिए जरूरी होते हैं। मांसपेशी मजबूत करनी हो, रक्तचाप नॉर्मल करना हो, हीमोग्लोबिन बढ़ाना हो तो भी शहद का सेवन लाभकारी है। शहद में ग्लूकोज पाया जाता है और शहद में पाए जाने वाला विटामिन और शुगर शरीर के भीतर जाते ही कुछ समय में घुल जाता है। जी मचल रहा हो या फिर उल्टी आने की शिकायत हो तो शहद लेना चाहिए। शहद के सेवन से कब्ज भी दूर की जा सकती है। संतरे या टमाटर के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर खाने से लाभ होगा। यदि आप वजन बढ़ाना चाहते हैं तो रात में दूध में शहद डालकर पीएं। न सिर्फ वजन बढ़ाने बल्कि वजन घटाने के लिए भी शहद लाभकारी है। आप यदि गुनगुने पानी में नींबू और शहद मिलाकर सुबह खाली पेट लेंगे तो कुछ ही समय में आप अपना वजन कम होते हुए देख सकते हैं। यदि आप थकान महसूस करते हैं या फिर आपको एनीमिया है तो भी आप नियमित रूप से शहद का सेवन कर इस बीमारी को दूर कर सकते हैं।

अर्थराइटिज के दर्द से निजात चाहिए या फिर जोड़ों में अधिक दर्द हो तो शहद में दालचीनी का पाउडर मिलाकर मसाज करनी चाहिए।जुकाम दूर करने के लिए शहद, अदरक और तुलसी के पत्तों का रस बराबर मात्रा में मिलाकर चाटने से राहत मिलती है। इतना ही नहीं यदि आपको ठीक तरह से नींद नहीं आती तो रात को दो चम्ममच शहद खाकर सोना लाभकारी होता है।

शहद का नियमित और उचित मात्रा में उपयोग करने से शरीर स्वस्थ, सुंदर, बलवान, स्फूर्तिवान बनता है और दीर्घजीवन प्रदान करता है।
गर्भावस्था के दौरान शहद का सेवन करने से होने वाला बच्चाभ स्वस्थ एवं मानसिक दृष्टि से अन्य शिशुओं से श्रेष्ठ होती है। त्वचा के जल जाने, कट जाने या छिल जाने पर भी शहद लगाने से लाभ मिलता है। शहद का नित्य सेवन करने से दिल और दिमाग की शक्ति बढ़ती है। ह्रदय के लिए भी शहद गुणकारी है, मीठी सौंफ के साथ 1-2 चम्मच शहद मिलाकर सेवन करने से दिल को मजबूत तो करता ही है। हृदय को सुचारू रूप से कार्य करने में भी मदद करता है।

शहद को अनार के रस में मिलाकर लेने से दिमागी कमजोरी, सुस्ती, निराशा तथा थकावट होती है। आँखों में शहद की 1-2 बूंद रोज डालने से आँखों की रोशनी बढ़ती है। शहद को एक खाद्य एवं प्राकृतिक औषधि माना गया है जो शरीर को स्वस्थ, निरोग और ऊर्जावान बनाये रखने के लिये लाभदायक है।