लोकसभा चुनाव से पहले संघ की रिपोर्ट ने बढ़ाई भाजपा की टेंशन

Before the Lok Sabha elections, the report of the union increased the tension of the BJP

-मौजूदा कई सांसदों पर हार का खतरा
दिल्ली में मंथन के बाद जिताऊ चेहरे खोजेगा हाईकमान

भोपाल। हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में सरकार गंवाने के बाद अब भाजपा को लोकसभा चुनाव में भी हार का खतरा दिख रहा है। दरअसल इस तरह की रिपोर्ट कुछ दिन पहले संघ ने भाजपा हाईकमान को भेजी है। इसके बाद से पार्टी हाईकमान की मप्र में पार्टी के प्रदर्शन को लेकर चिंता बढ़ गई है। इस रिपोर्ट में भाजपा के एक दर्जन सांसदों पर हार का खतरा बताया गया है। संघ ने अपनी सर्वे रिपोर्ट में भाजपा संगठन को साफ बता दिया है कि करीब एक दर्जन मौजूदा सांसदों से जनता खुश नहीं है। यह सांसद आगामी लोकसभा चुनाव में हार सकते हैं। पार्टी अगर इनकी सीटों पर जीत चाहती है तो उसे चेहरों को बदलाना होगा। संघ की रिपोर्ट के आधार पर अब भाजपा 2 मार्च को दिल्ली में होने वाली बैठक में योग्य चेहरों पर मंथन करने की तैयारी कर रही है। लोकसभा चुनाव को लेकर प्रदेश में संघ ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। संघ की सर्वे रिपोर्ट के बाद अब ग्वालियर, इंदौर और भोपाल में संघ की तीन बड़ी बैठकें भी किए जाने की तैयारी की जा रही है।

आला कमान को सांसदों की रिपोर्ट सौंपी
संघ की इस रिपोर्ट के पहले मध्यप्रदेश भाजपा के पदाधिकारियों की बैठक में भी करीब दर्जनभर से अधिक सांसदों के बारे में इस तरह की बात सामने आई थी। इसे लेकर मप्र में भाजपा के लोकसभा चुनाव प्रभारी स्वतंत्रेदव सिंह और सह प्रभारी सतीश उपाध्याय ने भी पदाधिकारियों के साथ बैठक कर वर्तमान सांसदों पर चर्चा की थी। इन पदाधिकारियों ने बाद में आलाकमान को रिपोर्ट सौंप दी है।

अब 2 मार्च को दिल्ली में बैठक
हाल ही में संघ की आई रिपोर्ट के बाद भाजपा पदाधिकारियों की एक बैठक दिल्ली में 2 मार्च को होने वाली है। इस बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह, केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सहित अन्य नेता भी शामिल होंगे। बैठक में संघ की रिपोर्ट को लेकर चर्चा की जाएगी साथ ही इस रिपोर्ट के आधार पर संघ द्वारा बताए संसदीय क्षेत्रों में ये पदाधिकारी योग्य चेहरों पर मंथन करेंगे। साथ ही चुनाव के दौरान सभी तरह के मसलों पर क्षेत्रवार रणनीति अपनाने पर भी चर्चा की जाएगी।

इन सांसदों पर हार का खतरा
ग्वालियर सीट से नरेंद्र सिंह तोमर, गुना से प्रहलाद पटेल, जबलपुर से राकेश सिंह, अनूप मिश्रा, फग्गन सिंह पर हार का खतरा मंडरा रहा है। इनके अलावा नंदकुमार सिंह के अलावा बालाघाट, राजगढ़, उज्जैन, धार, खरगोन और गुना सीट भाजपा के हाथ से जा सकती है।